संदेश

March 26, 2012 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

विजिट मी ऑन-" www.फलाना-ढिकाना.com"

चित्र
मेहरबान, कदरदान,पानदान ...-मेरा मतलब है महान विद्वान ,अगर आप के मन में दया है,इंसानियत है तो अपनी जेब से क्रेडिट/डेबिट कार्ड निकालिए और दान कीजिये /मदद कीजिए मुझ भिकारी पप्पू की.और पाइये आय कर में भारी छूट.बस लोग ऑन कीजिए  www.भिकारीपप्पू.co.in .
 जब से वेब साईट बनाना 100 रुपये से भी  सस्ता हो गया है. "वेब साईट सस्ता हो गया...???"   "का आप नाहीं जानते का ?" " का बात कर रहे हो भैया?"  "नाहीं .."    "तो कोनू बात नहीं ,जरा गौर फरमाइए इस ऊपर वाले विज्ञापन  पर..." फिर नीचे हमारी बात पर -
          भविष्य में कुछ ऐसे ही विज्ञापन आप को फेसबुक ,गूगल ,ट्विटर जैसी मशहूर वेब साइटों पर देखने को  मिलेंगे. जिन के माध्यम से भारत का आम आदमी,यहाँ तक की प्याज और आलू जैसे आदमी भी अपनी वेब-साईट बना सकेंगे और खुद को इंटरनेट की विशाल और अजूबों से भरी दुनिया में प्रतिस्थापित करने में सफल बनेंगे.जहाँ भिकारी को भीख मिलने की अपार संभावाएं विकसित होंगी वहीँ काम वाली बाइयों और अन्य काम (काम,क्रोध,मद,लोभ वाला काम) चाहने वालियों को काम के साथ -साथ अच्छा पैसा मिलना श…